राष्ट्रमंडल खेल : रंगारंग कार्यक्रम के साथ 21वें संस्करण का समापन

स्पोर्ट्स डेस्क/ रंगारंग कार्यक्रम के साथ राष्ट्रमंडल खेलों के 21वें संस्करण का समापन हो गया है । खेल भावना और सौहार्द के साथ 4 से 15 अप्रैल के बीच आयोजित इन खेलों विश्व के 71 देशों और टेरेटरीज के 6,600 से अधिक खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। इन खेलों के अंतिम रंगारंग कार्यक्रम आयोजित किए गए, जिसमें विभिन्न कलाकारों ने अपनी कला का बेहतरीन प्रदर्शन किया। आस्ट्रेलिया के पोएट्री स्लैम प्रतियोगिता के सबसे युवा विजेता 13 वर्ष के सोली राफाएल ने एक कविता भी सुनाई। जमैका के दिग्गज फर्राटा धावक यूसेन बोल्ट ने एक डीजे बनकर भी समारोह में मौजूद दर्शकों का मनोरंजन किया।

समारोह में राष्ट्रमंडल खेल महासंघ की अध्यक्ष लुईस मार्टिन ने भी दर्शकों और खिलाड़ियों को संबोधित किया। उन्होंने 21वें राष्ट्रमंडल खेलों के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार न्यूजीलैंड के भारोत्तोलक डेविड लिती को दिया। डेविड लिती ने पुरुषों के 105 से अधिक किलोग्राम भारवर्ग में गेम रिकार्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता था। समारोह के अंत में गोल्ड कोस्ट के महापौर ने इंग्लैंड के शहर बर्मिन्घम के महापौर को राष्ट्रमंडल खेलों का ध्वज सौंपा। समारोह को बर्मिन्घम से लाईव वीडियो से जोड़ा गया और इंग्लैंड के शहर में भी छोटे स्तर पर रंगारग कार्यक्रम हुए। राजकुमार एडवर्ड ने भी भाषण दिया।

इन खेलों में मेजबान आस्ट्रेलिया कुल 198 पदकों के साथ पदक तालिका में टॉप पर रहा। उसने 80 स्वर्ण पदक जीते। इंग्लैंड ने 136 पदकों के साथ दूसरा और भारत ने 66 पदकों के साथ तीसरा स्थान हासिल किया। कुल 71 देशों और टेरेटरीज में से 43 के हिस्से पदक आए। आस्ट्रेलिया ने 80 स्वर्ण के अलावा 59 रजत और इतने ही कांस्य पदक जीते।

इंग्लैंड ने 45 स्वर्ण, इतने ही रजत और 46 कांस्य पदक जीते। भारत ने बेशक चौथे स्थान पर रहे कनाडा (82 पदक) से कम पदक जीते लेकिन उसके स्वर्ण पदकों की संख्या कनाडा से अधिक रही। कनाडा ने 15 स्वर्ण जीते जबकि भारत के नाम 26 स्वर्ण रहे। भारत ने 20 रजत और इतने ही कांस्य भी जीते जबकि कनाडा के नाम 40 रजत और 27 कांस्य रहे। न्यूजीलैंड ने 15 स्वर्ण, 16 रजत और 15 कांस्य के साथ कुल 46 पदकों के साथ पांचवां स्थान हासिल किया।

दक्षिण अफ्रीका ने 37 पदक (13 स्वर्ण, 11 रजत और 13 कांस्य) जीते जबकि वेल्स ने 36 पदक (10 स्वर्ण, 12 रजत और 14 कांस्य) जीते। स्कॉटलैंड और नाइजीरिया के नाम नौ-नौ स्वर्ण रहे। भारत की बात की जाए तो उसने ग्लासगो में 15 स्वर्ण जीते थे लेकिन इस बार वह उस संख्या को पार करने में सफल रहा। हालांकि 2010 में अपनी मेजबानी में हुए 19वें राष्ट्रमंडल खेलों में भारत ने 38 स्वर्ण सहित कुल 101 पदक जीते थे, जो इन खेलों में उसका अब तक का सबसे अच्छा प्रदर्शन है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *