शनि दोष से घबरायें नहीं जाने कैसे होंगे शनिदेव खुश

TIL Desk Astro/ हिंदु धर्म में शनि की साढ़ेसाती का भय सभी को रहता है। जब भी लोगों के साथ बुरा होने लगता है तो उनको लगता है कि उनकी साढ़ेसाती चल रही है। शनि दोष से घबराने की जरूरत नहीं है। शनि देव न्याय और कानून के देवता हैं। जानिए साढ़े साती या शनि दोष शांति से बचने के पांच उपाय।

शनिदेव के मंत्र का जाप करने से शनि दोष कम होता है। शनि देव के मंत्र, ऊं प्रां प्रीं प्रौं स: शनश्चरायै नम: और ऊं शन: शनश्चरायै नम: हैं।

हनुमान जी की भक्ति साढ़ेसाती के प्रकोप से बचा सकती है। तो दिल लगा के हनुमान जी की भक्ति करें।

शनि की बुरी दशा चलने पर नीलम धारण करने से पहले उसका शुद्धिकरण और पूजा करें।

शनि-शांति के लिए महामृत्युंजय जाप, शनि मंत्र का जाप, काली चालीसा, श्रीदुर्गा सप्तशती का अर्गला स्तोत्र का पाठ का जाप, शनि चालीसा, शनि मंत्र व हनुमान जी का मंत्र कर सकते हैं।

शनि की बुरी दशा को खत्म करने के लिए चावल, तिल, उड़द, लोहा, तेल, काले वस्त्र, गुड, खाना, रोटी, तिल लड्डू, काला चना, लोहे की कोई वस्तु दान करने पर लाभ मिलेगा।

शनि देव को खुश करने के लिए गाय और कुत्ते को रोटी, चींटी को आटा और शक्कर खिलायें ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *